Ramadan ke 13 Huruf

Ramadan ke 13 Huruf

“माहे रमज़ानुल मुबारक” के 13 ह़ुरूफ़ 1 का’बए मुअ़ज़्ज़मा मुसल्मानों को बुला कर देता है और यह आ कर रहमतें बांटता है। गोया वो (यानी काबा) कुंवां है और यह (यानी रमज़ान शरीफ़) दरया, या वो (यानी काबा) दरया है और यह (यानी रमज़ान) बारिश। 2 हर महीने में ख़ास़ तारीखें और...
Ramzan ki Azmat

Ramzan ki Azmat

रमज़ान की अज़मत इ़बादत का दरवाज़ा : रोज़ा बाति़नी इ़बादत है, क्यूंकि हमारे बताए बग़ैर किसी को यह इ़ल्म नहीं हो सकता है कि हमारा रोज़ा है और अल्लाह बाति़नी इ़बादत को ज्‍़यादा पसन्द फ़रमाता है। एक ह़दीसे़ पाक के मुत़ाबिक़, “रोज़ा इ़बादत का दरवाज़ा है।” (अल...