ऐलाने नबूवत के पहले

ऐलाने नबूवत के पहले

571ई.  असहाबे फ़ील के वाकिये के 55 दिन बाद, मौसमे बहार में 12 रबीउल अव्वल मुताबिक 20 अप्रैल को बरोज़ पीर, सुबह फजर के वक्त मक्का में आपकी विलादत हुई। आपके दादा हज़रत अब्दुल मुत्तलिब ने आपका नाम मुहम्मदﷺ  रखा। आपके वालिद (अब्बाहुजूर) हज़रत अब्दुल्लाहؓ का पहले ही वफ़ात हो...
मैं रब से बाक़ी मुझ से

मैं रब से बाक़ी मुझ से

(ईद मिलाद स्पेशल)   या साहेबल जमाल व या सय्यदिल क़मर मिउंवजहेकल मुनीरो लक़द नव्वरूल क़मर लायुमकेनश शनाओ कमा काना हक़्क़हू बाद अज़ ख़ुदा बुजूर्ग तुई कि़स्सा मुख़्तसर ऐ साहेबे जमाल! और आदमियों के सरदार! आप ही के रूए मुबारक के अनवार से चांद रौशन है। आपकी सारी तारीफ़ें बयान...
Ramadan ke Gunahgar

Ramadan ke Gunahgar

रमज़ान का गुनाहगार   रमज़ान में अ़लल ए’लान खाने की दुनियावी सज़ा : रमज़ानुल मुबारक की ता’जीम के सबब एक आतश परस्त को अल्लाह ने न सि़र्फ़ दौलते ईमान से नवाज़ दिया बल्कि उस को जन्नत की ला ज़वाल ने’मतों से भी मालामाल फ़रमा दिया। इस वाकि़ए़ से खु़स़ूस़न हमारे उन...
Ramzan me Shaitan Qaid ho jata hai

Ramzan me Shaitan Qaid ho jata hai

रमज़ान में शैतान कैद कर दिया जाता है   माहे रमज़ान तो क्या आता है रह़मत व जन्नत के दरवाजे़ खुल जाते, दोज़ख़ को ताले पड़ जाते और शयात़ीन क़ैद कर लिये जाते हैं। चुनान्चे ह़ज़रते सय्यिदुना अबू हुरैरा रजि फ़रमाते हैं कि हुज़ूरे अकरमﷺ अपने स़ह़ाबए किराम को ख़ुश ख़बरी...
Ramzan ki Fazilat in hindi

Ramzan ki Fazilat in hindi

रमज़ान की फ़ज़ीलत   हज़ार गुना स़वाब : माहे रमज़ानुल मुबारक में नेकियों का अज्र बहुत बढ़ जाता है लिहाज़ा कोशिश कर के ज्‍़यादा से ज्‍़यादा नेकियां इस माह में जमा कर लेनी चाहियें। चुनान्चे ह़ज़रते सय्यिदुना इब्राहीम नख़्इ़र् फ़रमाते हैं: माहे रमज़ान...