अगर तुम शुक्र अदा करोगे तो मैं तुम पर नेमअतों की बारिश कर दूंगा… (कुरान 14:7)

शुक्र से रब राज़ी होता है। और जब वो राज़ी हो जाए तो फिर आप जो चाहें वो आपका हो जाए। पहले जो मांगना हैं मांग लें और उसका शुक्र अदा कर दें, फिर तो मांग पूरी होना तय है।