बेशक अल्लाह के नज़दीक तुममे से ज़्यादा इज़्ज़त वाला वो है, जो (अल्लाह से) ज़्यादा डरनेवाला है। (क़ुरान 49:13)

जो बंदा अल्लाह के अलावा किसी और शय से डरता है तो अल्लाह उस पर रहमत व बरकत का दरवाज़ा बंद कर देता है और उसके डर को और बढ़ा देता है। बंदे की दहशत का ये आलम होता है कि वो हर किसी पर शक करने लगता है