Rab ka Shukrana

Rab ka Shukrana

रब का शुक्राना   खुदा ने कहा… अगर तुम शुक्र अदा करोगे तो मैं तुम पर नेमअतों की बारिश कर दूंगा… (कुरान 14:7) जो शुक्र अदा करता है, वो अपने फ़ायदे के लिए ही शुक्र अदा करता है… (कुरान 31:12) पूजनीय, आकाश व पृथ्वी को सत्य के मार्ग से चलाने वाले...
मज़हब नहीं सिखाता…

मज़हब नहीं सिखाता…

ऐ ईमानवालों! कोई क़ौम किसी क़ौम का मज़ाक न उड़ाए… (कुरान 49:11) भाई, भाई से और बहन, बहन से नफ़रत न करे। एक मन और गति वाले होकर मंगलमय बात करें। (अथर्ववेद 3:30:3) जो कुछ तुम चाहते हो कि लोग तुम्हारे साथ करें, वैसा ही तुम भी उनके साथ करो। (बाईबिल मती 18:15)  ...
अंधेरे से उजाले की ओर-Andhere-Se-Ujale-ki – 1

अंधेरे से उजाले की ओर-Andhere-Se-Ujale-ki – 1

Andhere-Se-Ujale-Ki-Oar ”रब के हुक्म से वो अंधेरे से निकालकर रौशनी की तरफ ले जाते हैं” (क़ुरान 5:16) ”और उसके हुक्म से (वो) रब की तरफ बुलाते हैं, और (वो) सूरज से चमकनेवाले हैं” (क़ुरान 33:46) ”वो सूर्य की तरह रौशन हैं और अंधेरे को परास्त...