रहे सलामत तुम्हारी निसबत…

रहे सलामत तुम्हारी निसबत…

कोई सलीका है न आरजू का, न बंदगी मेरी बंदगी है। ये सब तुम्हारा करम है आक़ा, कि बात अब तक बनी हुई है।   तजल्लीयों की कफ़ील तुम हो, मुरादे क़ल्बे ख़लील तुम हो। ख़ुदा की रौशन दलील तुम हो, ये सब तुम्हारी ही रौशनी है।   अता किया मुझको दर्द ए उल्फ़त, कहां [...]
Sarkar Ghaus e Azam

Sarkar Ghaus e Azam

सरकारे ग़ौसे आज़मؓ ग़ौसे आज़मؓ बमने बेसरो सामां मददे किबलए दीं मददे काबाए ईंमां मददे सरकारे ग़ौसे आज़म, नज़रे करम खुदारा। मेरा खाली क़ासा भर दो, मैं फ़क़ीर हूं तुम्हारा।। झोली को मेरी भर दो, वरना कहेगी दुनिया। ऐसे सख़ी का मंगता, फिरता है मारा मारा।। सब का कोई न कोई, दुनिया में आसरा है। [...]

छाप तिलक सब छीनी रे

मोसे नैना मिलाइके।

 

प्रेम भटी का मधवा पिलाइके

मतवाली कर दीनी रे

मोसे नैना मिलाइके।

 

गोरी गोरी बय्यां, हरी हरी चूरियां,

बय्यां पकड़ धर लीनी रे

मोसे नैना मिलाइके।

 

बल बल जाउं मैं, तोरे रंग रजवा,

अपनी सी कर लीनी रे

मोसे नैना मिलाइके।

 

‘खुसरो’ निजाम के बल बल जय्ये,

मोहे सुहागन कीनी रे

मोसे नैना मिलाइके।

 

छाप तिलक सब छीनी रे

मोसे नैना मिलाइके।

Read more
किरपा करो सरकार…

किरपा करो सरकार…

मैं मली, तन मेरा मैला, किरपा करो सरकार। नज़रे करम सरकार, या मुहम्मद ﷺ... सरपे उठाकर पाप की गठरी, आई हूं तुम्हरे द्वार। नज़रे करम सरकार, या मुहम्मद ﷺ...   मेरे खिवइया बीच भंवर में, कश्ती डूब न जाए। तेरा हूं, तू मेरी खबर ले, कौन लगाए पार। नज़रे करम सरकार, या मुहम्मद ﷺ...   [...]
मी रक़्सम-Me Raksam ……….

मी रक़्सम-Me Raksam ……….

मी रक़्सम - सूफ़ीयाना कलाम ...........   नमी दानम चे आखिर चूं दमे दीदार मी रक्सम मगर नाज़म बईं ज़ौक़े के पेशे यार मी रक्सम मुझे नहीं मालूम कि आखिर दीदार के वक्त क्यूं रक्स कर रहा हूं लेकिन अपने इस ज़ौक़ पर नाज़ है कि अपने यार के सामने रक्स कर रहा हूं तू [...]
Sarkar Ghaus e Azam

Main Bura Hun Ya Bhala Hu

 Main Bura Hun Ya Bhala Hu by Milad Raza Qadri  मैं बुरा हूं या भला हूं मेरी लाज को निभाना میں برا ہوں یا بھلا ہوں میری لاج کو نبھانا Main Bura Hun Ya Bhala Hu by Rahat Nusrat Fateh Ali Khan (with Dr. Tahir ul Qadri)   Main bura hoon ya bhala - Hafeez [...]